कोटिया भील

राजस्थान के कोटा जिला से वर्तमान में दक्षिण पश्चिम में 5 मील की दूरी पर भीलों की राजधानी थी,जो अकेलगढ़ के नाम से जानी जाती थी, इसके आसपास भीलो का राज्य था... Read more »

Scheduled Area या TSP Area ? कौनसा सही है

लोगो मे Scheduled Area या TSP Area को लेकर बहुत बड़ा भ्रम की स्थिती है ? अधिकांश लोगो को पता ही नहीं है कि Scheduled Area या TSP Area कौनसा सही है... Read more »

खाखलिया बावसी – भील पूर्वजों के थानक

आदिवासी गांवों में हर गांव के किनारे हमें प्राय: सर्पाका आक़ति से मढी हुई अनेक मूर्तियां दिखाई देती है। आदिवासी समाज में यह खाखलिया बावसी के नाम से जानी जाती है। समाज... Read more »

जोहार क्या है

सबका कल्याण करने वाली प्रकृति की जय [1]. यह शब्द AUSTROASIAN language family का है..तो इसका अर्थ उसी “ऑस्ट्रो एशियन भाषा परिवार” में ढूँढना संभव है. [2]. Indo Aryan language family की... Read more »

संथाल विद्रोह

वर्ष १८५५ में बंगाल के मुर्शिदाबाद तथा बिहार के भागलपुर जिलों में स्थानीय जमीनदार, महाजन और अंग्रेज कर्मचारियों के अन्याय अत्याचार के शिकार संताल जनता ने एकबद्ध होकर उनके विरुद्ध विद्रोह का... Read more »