बैतुल|सारणी- शासकीय महाविद्यालय बगडोना का नाम सरदार विष्णुसिंह गोंड के नाम पर रखा जाये-ACS

बैतुल|सारनी-आदिवासी बाहुल्य जिला बैतुल के घोड़ाडोंगरी ब्लाक के शासकीय महाविद्यालय बगडोना में कई वर्षो से मांग रही है की शासकीय महाविद्यालय का नाम सरदार विष्णुसिंह उइके के नाम पर रखा जाये। लेकिन कॉलेज प्रशासन महज कागजी कार्यवाही पूरी करने की बात कर रहा है। सिर्फ आश्वासन देने के आलावा कुछ नही कर रहा है।वही महाविद्यालय में एनसीसी भी कई सालो से बन्द, जिसे शुरू किया जाना चाहिए, महाविद्यालय सारणी में एमएससी संकाय खोला जाना चाहिए। शहरी और ग्रामीण क्षेत्र से आने वाले विद्यार्थियों को अतिथि विद्वानों द्वारा पढ़वाया जाता है। जबकि स्थाई शिक्षक विद्यार्थियों को पढ़ाने में रूचि नहीं रखते हैं। महाविद्यालय में जनभागीदारी से संचालित संकायों को शासकीय किया जाए, दूरदराज से आने वाले विद्यार्थियों के लिए बालक छात्रावास की व्यवस्था की जाए, महाविद्यालय में केन्टीन खुलवायी जाये,इन्ही मांगो के लेकर शुक्रवार 9 नवंबर को आदिवासी छात्र संग़ठन के नेतृत्व में मुख्यमंत्री के नाम से कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन सौंपने वालों में महाविद्यालय के युवा छात्र नेता लक्ष्मण नर्रे, समाजसेवी सुनिल सरियाम, मुकेश धुर्वे , छोटू उइके, संजु धुर्वे,करण यादव के अलावा दर्जनों की संख्या में महाविद्यालय के छात्र उपस्थित थे।
आदिवासी छात्र नेता लक्ष्मण नर्रे ने कहा-
अमर शहीद सरदार विष्णुसिंह गोंड स्वतंत्रता संग्राम सेनानी आदिवासी थे इस वजह से महाविद्यालय का नाम परिवर्तित नही किया जा रहा है। प्रशासन स्तर पर यदि बगडोना महाविद्यालय का नाम नही बदला गया तो सारणी, बगडोना के आसपास के जितने भी आदिवासी गांव है जहां के विद्यार्थी बगडोना पढ़ने आते हैं। उनके माध्यम से जनआंदोलन किया जाएगा।
मेजर,युवा आवाज बैतुल

NEWS PHOTO: 

अपने विचार यहां पर लिखें

3 + 3 =