कोयतोरिन टेक्नोलॉजी “गोण्डरी बाड़ी”

#गोण्डरी.....
#कोयतोरिन_टक्नोलॉजी में गोण्डवाना के पवित्र “गो” शब्द से #गोण्डरी ( किचन गार्डन) जिसमे सर्वोच्चतम शुद्ध #कुसरी (कोयापुनेम की पवित्र “क” से कुसरी) सब्जियों का उत्पादन किया जाता है जहां पर कोया आदिवासियों के रोजाना की #खाद्य_श्रृंखला उपस्थित होता है। #गोण्डरी में जमीन के अन्दर से लेकर ऊपरी वातावरण तक... फूलने फलने वाले साग भाजी को एक कोया गोण्ड (आदिवासी) उत्पादन करता है। जिसमे कोचाई (अरबी), बंगुलांग(छोटा टमाटर), भटा, झिर्रा भाजी, मिरिंग, सेमी, डोड़कांग, मुलंगा,कोल्यार कुसरी और मूलभूत जड़ी बूटियों इत्यादि होते हैं।
#जिनमे किसी भी प्रकार की #रासायनिक_खाद_व_दवाइयों का प्रयोग #नही किया जाता है। ......#अर्थात_गोण्ड_आदिवासी_दुनिया का #सर्वश्रेष्ठ_खेती #गोण्डरी के अन्दर में करता है।..... जो कि गोण्ड आदिवासियों को तंदरुस्त व स्वस्थ रहने मद्दगार होता है।... गोण्ड आदिवासी साग भाजी के साथ साथ कोर और गोगोड़ ( #कोयापुनेम_के_पवित्र “क” से #कोर_कोको (मुर्गी) ओर #गोण्डवाना_के_पवित्र “गो” से #गोगोड़(मुर्गा) [ राजा बोधक] )को पालते है जो गोण्डरी में लगने वाले हानिकारक किड़ों को खाते है। जिससे किसी भी प्रकार की किड़ों व बीमारियों से गोण्डरी में उपस्थिति खाद्य शृंखला को बचाते है। यह #कोयतोरिन_टेक्नोलॉजी में अद्धभुत खेती है जो कि #पूर्ण_प्रदूषित रहित व #शुद्ध_खाद्य पदार्थ की व्यवस्था है। क्योंकी ऐ मेरे महान दादा ..के.... ,दादा... के,....दादा... के ,दादा... के ..दादाओं द्वारा सिस्टेमेटिक रूप से गोण्डरी का निर्माण किया गया है और जिसमे #सिस्टेमेटिक_खाद्यनो को उगाया जाता है। ऐ
मेरे महान पुरखो ने हमे #अनन्त_काल तक कि खेती करना व बाध्यरहित जीवन जीने का ज्ञान दिए है। ऐसे मेरे महान पुरखो सत सत नमन ....।

परन्तु #आज_विज्ञान_बहुत_ज्यादा_खोज कर चुका है इसलिए मेरे #महान_पुरखो की खोज के सामने #विज्ञान को भी #घुटना_टेकना पड़ेगा।

#अतः मैं मानता हूँ कि एक दिन पूरा विश्व को कोयापुनेम की #कोयतोरिन_टेक्नोलॉजी को ढूंढते हुए बस्तर आएगा और तभी आगे की मानव जीवन संभव होगा।
★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★

#जय_सेवा_जय_प्रकृति_पेन_जय_गोण्डवाना..
#जय_हम्मुल_पेन_त_सेवा_सेवा

#प्रकृति व पुरखों द्वारा बनाए गए नियमो को समझने का एक छोटा सा प्रयास ............
#तुलसी_नेताम
ग्राम मालाकोट, जिला_कोण्डागाँव,बस्तर (छ. ग.)

अपने विचार यहां पर लिखें

14 + 2 =