जयपाल सिंह मुंडा जन्मदिन

जयपाल सिंह मुण्डा का जन्म झारखंड के खूंटी नाम का एक छोटे से कस्बे मे 03 जनवरी 1903 मे हुआ था । इन्होने अपनी प्रारम्भिक शिक्षा रांची के सैंट पॉल स्कूल से प्राप्त किया था । वहाँ के प्रधानाचार्य ने आगे की शिक्षा के लिये उन्हे इंग्लैंड भेजा । स्कूल की शिक्षा पाने के बात उन्होने उच्च शिक्षा ऑक्स्फर्ड विश्वविद्यालय से प्राप्त की । ऑक्स्फर्ड में ही उन्होंने हॉकी टीम में अपनी अलग जगह बना ली थी । 1928 को एम्स्टर्डम ओलम्पिक द्वारा उन्हे भारतीय हॉकी को नेतृत्व करने की जिम्मेवारी सौंपी गई । यह वही हॉकी टीम थी जिसमे हॉकी के जादूगर कहे जाने वाले मेजर ध्यानचंद भी उस टीम में एक खिलाड़ी की हैसियत से खेल रहे थे । जयपाल सिंह मुण्डा के नेतृत्व में 1928 को समर ओलम्पिक में भारतीय हॉकी टीम ने स्वर्ण पदक जीता था । आज उच्च शिक्षा प्राप्त अनेक युवाओं के लिये जयपाल सिंह मुण्डा एक प्रेरणा के स्त्रोत हैं जिन्होंने पढ़ने लिखने के बाद अपने समाज और देश के लिये अपनी सेवा समर्पित कर दी । मारंग गोमके की जीवनी उन भटके हुवे युवाओं को अच्छे रास्ते मे लाने का एक राह दिखाती है जो अपने समाज के खिलाफ काम करते है । जयपाल सिंह मुण्डा बालकपन से ही खेल कूद ,पढाई लिखाई ऐवम भाषण प्रतियोगिता में आगे थे । उनके अंदर की प्रतिभा को सबसे पहले सैंट पॉल के प्रधानाचार्य रेव.केकॉन कोसग्रेन ने पहचाना और वही उनके प्रारम्भिक गुरु भी थे, जिन्होंने उन्हे अपने समाज के उत्थान के लिये प्रेरित किया । जयपाल मुण्डा ने ऑक्स्फर्ड से एम ए की डिग्री हासिल की तो उन्हे इंग्लैंड में कई उच्च पद प्राप्त हुये और अपना परिवार बसाया । लेकिन एक दिन उनके गुरु ने उनसे कहा कि तुम्हरा समाज आज भी बहुत पिछडा है, शोषित है, उपेक्षित है क्यों नही तुम अपने समाज के लिये काम करते हो । यह बात जयपाल सिंह मुण्डा के जेहन में बैठ गई । उन्होंने इंग्लैंड छोड़ने का एक बहूत कठिन निर्णय लिया । अपना परिवार और उच्च पदों का त्याग कर वे भारत लौट आये । http://newerarehabilitation.com/map

more info वे एक जाने माने राजनीतिज्ञ, पत्रकार, लेखक, संपादक, शिक्षाविद् और

1925 में ‘ऑक्सफोर्ड ब्लू’ का खिताब पाने वाले हॉकी के एकमात्र अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी थे।

उनकी कप्तानी में १९२८ के ओलिंपिक में भारत ने पहला स्वर्ण पदक प्राप्त किया।

 

READ MORE...

अपने विचार यहां पर लिखें

Order
अपना मोबाईल नम्‍बर लिखे
Image CAPTCHA